अच्छे दिन जब भक्त आशावादी हुआ करते थे
कविता

एक भक्त की व्यथा

वो एक असाधारण भक्त था, 16 मई से पहले उसका एक ही काम था, दुसरो के ट्वीट्स पे जाके गालियां देना, फेसबुक पे सबके पोस्ट पे जा नमो-नमो लिखना! उसका मानना था, अगर मोदीजी बने […]