कांग्रेस पर रामदेव ने लगाया #MeToo का आरोप, कहा सलवार पहना कर उत्तेजित करने को कहा गया

कांग्रेस के एक बड़े नेता ने रामदेव को सलवार पहनकर सिड्यूस या उत्तेजित करने को कहा था।

#MeToo कैंपेन के तहत रोज़ नए-नए सेलिब्रिटी के नाम चर्चा में आ रहे हैं। बड़े-बड़े नामों पर इसका आरोप लग रहा है। सामान्यतः इस कड़ी में लड़कों पर लड़कियाँ आरोप लगा रही हैं। लेकिन #मि_टू के कैंपेन में अब बाबा रामदेव भी कूद पड़े हैं।

बाबा रामदेव का नाम इसमें उनपर आरोप लगने की वजह से नहीं आया, बल्कि बाबा रामदेव ने किसी और पर आरोप लगाया है।

A statue of Baba Ramdev wearing his iconic suit, waiting for its buyers.
सलवार पहने बाबा रामदेव की फ़ाइल फ़ोटो।

बाबा रामदेव ने कांग्रेस के बड़े-बड़े नेताओं का बिना नाम लिए उन पर हरासमेंट (शोषण) का आरोप लगाया है।

बाबा रामदेव ने ट्विटर पर एक ट्वीट हैशटैग #MeToo के साथ किया किया, और उसमें लिखा कि जब वो पतंजलि के शुरुआती दौर में थे और कांग्रेस के ऑफिस में वो पतंजलि को बढ़ावा देने के लिये मदद माँगने गए, तो कांग्रेस के एक बड़े नेता ने उन्हें सलवार पहनकर सिड्यूस या उत्तेजित करने को कहा था।

इस ट्वीट पर विवाद बढ़ने के बाद बाबा रामदेव ने ट्वीट डिलीट कर दिया, और उसके बाद ट्विटर से अपना एकाउंट भी डिएक्टिवेट कर दिया।

बाद में जब हमारे सवांददाता ने उनसे इस विषय पर बात की तो उन्होंने बताया कि वो इस विषय पर ज्यादा बात नहीं कर सकते हैं, क्योंकि इससे उन्हें बेज़्ज़ती का अहसास होता है। इसलिए उन्होंने 2014 में काँग्रेस के खिलाफ चुनाव प्रचार किया था।

बाबा रामदेव ने आगे बताया कि बाद में जब वो बीजेपी कार्यालय में गए, तो उनको आशाराम बापू के साथ मिलने को कहा गया, जिसके बाद बीजेपी ने उनकी पतंजलि को आगे बढ़ाने में मदद की।

रामदेव के इस आरोप के बाद काफी हलचल बढ़ गयी है। आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है।
हालाँकि कांग्रेस के किस नेता ने उनके साथ ऐसा किया इसका अभी तक खुलासा नहीं हो पाया है।

Discussion

comments

डिस्क्लेमर: यह एक हास्य-व्यंग्य लेख है और इसके सभी पात्र, घटनाएं अादि काल्पनिक हैं। कृपया इस खबर को सच समझकर व्यर्थ मे अपनी भावनाएं अाहत न करें। अाप भी तीखी मिर्ची ज्वाईन करके अपनी रचनाएं पोस्ट कर सकते हैं
Shubham
About Shubham 230 Articles
कुछ नहीं से कुछ भी बनाने की कला।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*


This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.