भारतीय संसद
विचार

एक और बकवास चुनावी विश्लेषण !

चुनाव से पहले, चुनाव के दौरान और अब चुनाव के बाद इतना कुछ पढ़ लिया है की दिमाग के अन्दर तथ्यों की गुलाटी रुकने का नाम नहीं ले रही है। मोदी की जीत के बाद […]

अनुभव भी, रफ़्तार भी!
कविता

अनुभव है रफ़्तार है, कांग्रेस फिर इस बार है!

अनुभव है रफ़्तार है, कांग्रेस फिर इस बार है! जहाँ देखो भ्रष्टाचार है, महिलाओं का हो रहा बलात्कार है। मंहगाई ने मचा दी चीख पुकार है, दिल्ली में हमारी जो सरकार है। आधे से ज्यादा […]