​सुनील नारायण का खुलासा- ‘कोई मिल गया’ के ‘जादू’ से मिलती है बैटिंग की पावर

सुनील नारायण ओपनिंग में वैसे तो बहुत अच्छा खेलते हैं, लेकिन शाम 4 बजे, यानी धूप के समय होने वाले मैच मैं बहुत जबरदस्त फॉर्म में नज़र आते हैं, रात की अपेक्षा।

आईपीएल अब अपने आखिरी स्टेज पर पहुँच चुका है। अब प्लेऑफ में कौन सी टीमें खेलेंगी, ये भी फाइनल हो चुका है। इस आईपीएल में वैसे तो बहुत कुछ अनोखा घटित हुआ, लेकिन जो सबसे हैरान करने वाली घटना हुई- वो है सुनील नारायण का धुंआधार बैटिंग करना।

वैसे तो सुनिल नारायण मूलतः बॉलर हैं, जो अपनी स्पिन के लिये जाने जाते हैं, लेकिन इस बार कोलकाता नाइट राइडर्स की तरफ से उनको ओपनिंग में उतारा जा रहा है। ओपनिंग में वैसे तो वो बहुत अच्छा खेलने लगे हैं, लेकिन एक खास बात रही है- वो शाम 4 बजे, यानी धूप के समय होने वाले मैच मैं बहुत जबरदस्त फॉर्म में नज़र आते हैं,  रात के मैच के अपेक्षा।

Sunil Narayan Hairstyle
सुनील नारायण का एन्टेना जिससे वो जादू से सिग्नल रिसीव करते हैं. (फोटो साभार: फ्लिकर)

दिन के ही मैच में खेलते हुए उन्होंने आईपीएल 10 के सबसे तेज़ अर्धशतक जमा दिया। मात्र 15 गेंदों पर उन्होंने अपना अर्धशतक पूरा कर लिया। सुनील नारायण ने अपनी जबरदस्त बैटिंग के कारण पावर प्ले में सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है।

अब जब आईपीएल 10 खत्म होने पर आया है, तो सुनील नारायण ने खुलासा किया है कैसे वो शाम के मैच में, या यूं कहें जब धूप रहती है- तब इतनी धुंआधार बैटिंग कर लेते हैं।

सुनील नारायण ने हमसे एक्सक्लूसिव बातचीत में बताया कि जब वो भारत आईपीएल 10 खेलने आये थे, तो उनकी मुलाकात “जादू” से हुई। पहले तो वो डर गए, लेकिन फिर उन्होंने “जादू” को लिफ्ट देकर उसके गंतव्य स्थान तक छोड़ कर उससे दोस्ती कर ली।

फिर सारा खेल यहीं से शुरू हुआ। “जादू” का पावर धूप में काम करता है, और इसलिए जैसे ही वो धूप में बैटिंग करने उतरते हैं, वो अच्छा खेलते हैं, लेकिन शाम के समय वो फिसड्डी साबित हो जाते हैं।

सुनील नारायण के इस खुलासे के बाद चारों तरफ हड़कंप मच गया है। कानपुर के लौंडे इस पर रिसर्च करने में लगे हुए है कि किसी तरह सोलर पैनल लगा कर ये पावर ग्रीन पार्क स्टेडियम में रात में भी काम करे। अब ये प्रयोग कब तक पूरा होगा, ये देखने वाली बात होगी। लेकिन अगर ये रिसर्च पूरा हो गया, तो एक बात तो है- ये बहुत फायदा पहुँचने वाला है सुनील नारायण और उनकी टीम को!

Discussion

comments

डिस्क्लेमर: यह एक हास्य-व्यंग्य लेख है और इसके सभी पात्र, घटनाएं अादि काल्पनिक हैं। कृपया इस खबर को सच समझकर व्यर्थ मे अपनी भावनाएं अाहत न करें। अाप भी तीखी मिर्ची ज्वाईन करके अपनी रचनाएं पोस्ट कर सकते हैं
Shubham
About Shubham 213 Articles
कुछ नहीं से कुछ भी बनाने की कला।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*