​मोदी के पीसी पर रेन्समवेयर का अटैक, वायरस हटाने के बदले 15 लाख की डिमांड

वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित हुए हैं नरेंद्र मोदी। सूत्रों की माने तो नरेन्द्र मोदी जी के लैपटॉप में वो वायरस आ जाने के बाद उनका लैपटॉप ठप्प पड़ गया है।

एयर इंडिया फ्लाइट: रेन्समवेयर वायरस का जाल सब ओर फैल रहा है, हजारों कंप्यूटर इसकी चपेट में आ चुके हैं। बात करें रेन्समवेयर वायरस की, तो ये एक ऐसा वायरस है जो कंप्यूटर को लॉक कर देता है और कंप्यूटर खोलने के बदले में वो रुपये की डिमांड करता है। कई लोग इसकी गिरफ्त में हैं, जरूरी फाइल्स और डेटा होने के कारण लोगों को डिमांड किये गए रूपए देने पड़ रहे हैं।

High tech Narendra Modi using computer and smartphone. - Ransomware attack
रैनसमवेयर से छुटकारा पाने के लिए तजिंदर सिंह लकड़बग्गा को फ़ोन लगाते मोदीजी.

कई लोगों का मानना है कि वायरस नार्थ कोरिया से छोड़ा गया है, लेकिन ये वायरस कहाँ से आया है ये अभी कहना मुश्किल है, इसके बारे में बस अंदाज़ा लगाया जा सकता है।

इस वायरस का असर तो वैसे दुनिया के बाकी देशों में जबरदस्त देखने को मिल रहा है, लेकिन भारत में चुनिंदा लोगों पर वायरस ने अटैक किया है।

वायरस के कारण जो सबसे ज्यादा प्रभावित हुए हैं, वो हैं देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। सूत्रों की माने तो नरेन्द्र मोदी जी के लैपटॉप में वो वायरस आ जाने के बाद उनका लैपटॉप ठप्प पड़ गया है।

मोदी का लैपटॉप खोलने के लिए वायरस की ओर से डिमांड हो रही है- मोदी उनके एकाउंट में 15लाख रुपये डालें। उसके बाद ही उनका लैपटॉप इस वायरस से मुक्त होगा और उनका लैपटॉप खुलेगा।

इधर इस बात पर राजनीति भी गरमा गई है। आरोप-प्रत्यारोप का दौर चालू हो चुका है। विपक्ष इस बात पर तंज कस रहा है कि वायरस भी 15 लाख रुपए की डिमांड कर रहा है। अगर अपने किये वादे के अनुसार मोदी सबके एकाउंट में 15-15 लाख भेज दिये होते, तो ये नौबत नही आती। वही सत्ताधारी पार्टी इसे विपक्ष की चाल बता रहा है।

अब देखने वाली बात होगी कि 15 लाख देने के बाद ये वायरस मोदीजी के लैपटॉप का पीछा छोड़ता है या नहीं।

Discussion

comments

डिस्क्लेमर: यह एक हास्य-व्यंग्य लेख है और इसके सभी पात्र, घटनाएं अादि काल्पनिक हैं। कृपया इस खबर को सच समझकर व्यर्थ मे अपनी भावनाएं अाहत न करें। अाप भी तीखी मिर्ची ज्वाईन करके अपनी रचनाएं पोस्ट कर सकते हैं
Shubham
About Shubham 212 Articles
कुछ नहीं से कुछ भी बनाने की कला।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*