एंटी-रोमियो स्क्वाड ने बाबा रामदेव को किया गिरफ़्तार, आँख मारने से हुयी गलतफहमी

रामदेव पर Anti Romeo Squad ने आरोप लगाया कि वो पार्क में बैठी लड़कियों को आंख मार रहे थे, जबकि बाबा रामदेव उन्हें समझा रहे थे कि ये उनकी पुरानी आदत है।

लखनऊ: यूपी में योगी आदित्यनाथ के सरकार में गठित एंटी रोमियो स्क्वाड पूरी तरह काम कर रहा है। बात करें एंटी रोमियो स्क्वाड की, तो इसे बजरंग दल का आधिकारिक रूप बनाया गया है। एंटी-रोमियो पूरी मुस्तैदी से काम कर रहा है, इसके काम में इतनी शिद्दत दिखती है कि ये चचेरे भाई-बहन से लेकर पति-पत्नी तक को भी नहीं छोड़ते हैं, और उन्हें ‘रोमियो’ और ‘जूलियट’ बना कर थाने ले आते हैं, और अच्छी आवभगत भी करते हैं।

Baba Ramdev winks on Shilpa Shetty in front of Anti Romeo Squad
पकड़े जाने से पहले का एक दृश्य।

यूपी के लोग सलाह देने के लिए जाने जाते हैं, तो कुछ लोग मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को ये सलाह देते नजर आ रहे हैं कि एंटी-रोमियो स्क्वाड का नाम बदल कर ‘आवारा-को-निपटाओ’ रख दिया जाय, ताकि गुटखा खाते वक़्त भी वो आराम से इस नाम को बोल सकें, क्योंकि एंटी-रोमियो स्क्वाड बोलने के लिए उन्हें मुँह से गुटखा फेंकना पड़ता है जिससे बहुत सारा रुपया उनका ऐसे ही बर्बाद हो जाता है। खैर इस सलाह पर योगी आदित्यनाथ अमल करते हैं या नहीं करते हैं, ये तो बाद की बात है, लेकिन उससे पहले ही एंटी-रोमियो स्क्वाड से बहुत बड़ी गलती हो गयी।

दरअसल योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री बनने के बाद रामदेव अपने केशरिया भेष-भूसा में यूपी घूमने निकले थे।

एक जगह खड़े हो कर वो पार्क को निहारने लगे, इतने में एंटी-रोमियो स्क्वाड के सदस्य आ गए, और बाबा रामदेव को थाने चलने के लिए कहने लगे। बाबा रामदेव ने अपना कसूर पूछा, तो एंटी-रोमियो स्क्वाड के पुलिस वालों ने जोरदार तरीके से लताड़ते हुए उन्हें गिरफ्तार कर लिया और पकड़ कर थाने ले आये।

Baba Ramdev staring at breasts
बाबा रामदेव पर ये भी आरोप है कि वो एक महिला को आपत्तिजनक मुद्रा में घूर रहे थे.

रामदेव पर एंटी-रोमियो स्क्वाड ने आरोप लगाया कि वो पार्क में बैठी लड़कियों को आंख मार रहे थे, जबकि बाबा रामदेव बार-बार उन्हें समझा रहे थे कि ये उनकी पुरानी आदत है, और इसी के कारण तो उनका इश्क़ सनी लियोनी के साथ हो पाया। उन्होंने अपनी सफाई में कहा कि वो तो बस पार्क को देख रहे थे, और आँख मारने की बिमारी उन्हें बचपन से ही है।

हालाँकि कुछ देर बाद बाबा रामदेव को रिहा कर दिया गया, लेकिन सूत्र बताते हैं कि योगी पर किये गये बाबा रामदेव के हमले का जवाब देने के लिए योगी के इशारे पर ही एंटी रोमियो स्क्वाड उन्हें उठा कर थाने लाया। अब बाबा रामदेव और योगी आदित्यनाथ की इस उठा-पटक का अंजाम क्या होगा, जानने के लिए पढ़ते रहिये तीखी मिर्ची।

Discussion

comments

डिस्क्लेमर: यह एक हास्य-व्यंग्य लेख है और इसके सभी पात्र, घटनाएं अादि काल्पनिक हैं। कृपया इस खबर को सच समझकर व्यर्थ मे अपनी भावनाएं अाहत न करें। अाप भी तीखी मिर्ची ज्वाईन करके अपनी रचनाएं पोस्ट कर सकते हैं
Shubham
About Shubham 229 Articles
कुछ नहीं से कुछ भी बनाने की कला।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*


This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.