​भूकंप की असली वजह बताने के लिए वैज्ञानिक करेंगे मोदी को सम्मानित

नरेन्द्र मोदी के 90 मिनट के भाषण ने सभी को फिर से सोचने पर मजबूर कर दिया, लेकिन भूगर्भ वैज्ञानिकों को तो अपनी थ्योरी ही बदलनी पड़ेगी।

नयी दिल्ली: लोकसभा में दिए अपने भाषण में नरेंद्र मोदी ने लोगों को जम कर हँसाया, और विपक्ष पर ताने भी कसे। कुछ बातें मोदी ने ऐसी भी बताई जिसका इससे पहले अभी तक पता नहीं था। 90 मिनट में भाषण को मिडिया ने फुल पैसा वसूल भाषण बताया, जैसे ये प्रधानमंत्री का भाषण ना हो सलमान खान की कोई फ़िल्म चल रही हो। खैर इससे अलग कुछ बातें ऐसी भी बताई जिसका कारण अभी तक वैज्ञानिक कुछ और ही सोचते थे।

Narendra Modi Earthquake - Honoured
प्रधानमन्त्री मोदी सम्मान ग्रहण करने की प्रैक्टिस करते हुए.

नरेंद्र मोदी के 90 मिनट के भाषण ने हालांकि सभी को अपने विचार पर फिर से सोचने पर मजबूर कर दिया, लेकिन भूगर्भ वैज्ञानिकों को तो उन्होंने अपनी थ्योरी बदलने पर ही मजबूर कर दिया।

मोदी ने अपने भाषण में जो कहा, उसे सुन कर भूगर्भ के वैज्ञानिक पानी-पानी हो गए, और आम लोगों में जो गलत धारणा बैठी हुई थी, वो भी निकल गयी।

मोदी ने बताया कि लोग SCAM में भी सेवा खोज लेते हैं, इसलिए धरती माता रुठ गयी हैं और भूकंप आया है। आपको बता दें कि दो दिन पहले ही भूकंप आया था, जिसका असर दिल्ली, हरियाणा, पंजाब और उत्तराखंड में देखने को मिला था। कल तक लोग यही मानते आ रहे थे कि धरती के नीचे टेकटोनिक प्लेट्स टकराने से भूकंप आते हैं। लेकिन मोदी द्वारा बताये गये भूकंप आने की असली वजह को देखकर सबको अपने-अपने विचार बदलने पड़ रहे हैं!

वैज्ञानिकों के एक दल ने जब भूकंप आने की ये थ्योरी सुनी, तो उनकी आँखों से ख़ुशी और दुःख के आंसू एक साथ छलकने लगे।

हमने जब इसका कारण पूछा तो उन लोगों ने बताया कि दुःख इस बात का कि इतने सालों तक हम गलत धारणा में जीते आ रहे थे, इसलिए दुःख के आंसू निकल रहे हैं। और ख़ुशी इस बात की है कि नयी थ्योरी हमें खोजनी नही पड़ी, बल्कि बनी बनायी मिल गयी, तो हमें ज्यादा मेहनत नहीं करनी पड़ेगी।

जो भी हो लोगों की गलत धारणा तोड़ने के लिए मोदी की जय-जयकार तो हो ही रही है, तथा वैज्ञानिकों के दल ने निश्चय किया हैं कि वो नरेंद्र मोदी के इस अद्भुत थ्योरी के लिये उन्हें सम्मनित करेंगे।

Discussion

comments

डिस्क्लेमर: यह एक हास्य-व्यंग्य लेख है और इसके सभी पात्र, घटनाएं अादि काल्पनिक हैं। कृपया इस खबर को सच समझकर व्यर्थ मे अपनी भावनाएं अाहत न करें। अाप भी तीखी मिर्ची ज्वाईन करके अपनी रचनाएं पोस्ट कर सकते हैं
Shubham
About Shubham 226 Articles
कुछ नहीं से कुछ भी बनाने की कला।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*


This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.