चुनाव के टाइम राहुल नहीं रहे मिल, कांग्रेस ने मोदी के नाम फाड़ा बिल !

कांग्रेस के एक प्रवक्ता ने मोदी जी को निशाने पर लेते हुए आरोप लगाया कि राहुल गाँधी के अक्सर देश से गायब होने की वजह मोदी जी हैं।

Rahul Gandhi Foreign tour
राहुल गाँधी अपनी जिम्मेदारियों से भागते हुए. (साभार : mindthenews.com)

गुप्त लोकेशन: नया साल मनाने के लिए गुपचुप विलायत को निकले छोटा भीम के बाल सखा और कांग्रेस पार्टी के उपाध्यक्ष राहुल गांधी की दस दिनों बाद भी कोई खोज-खबर नहीं मिल रही थी। हालाँकि राहुल गाँधी का बीच-बीच में अंतर्ध्यान होने का अतीत रहा है। पर जबकि पांच राज्यों में चुनाव का आधिकारिक बिगुल बज चुका है तो उनकी ये रहस्यमयी अनुपस्थिति कांग्रेस और कांग्रेस से ज्यादा विरोधी पार्टियों को खलने लगी। राहुल गाँधी को लेकर पत्रकारों के विविध सवालों से कांग्रेस के तमाम नेता पिछले कुछ दिनों से भन्नाये फिर रहे थे।

बहरहाल कांग्रेस के विलुप्तप्राय कार्यकर्ताओं की छटपटाहट और बाल मन राहुल जी के आगमन की किसी प्रकार की आहट न आती देख कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने प्रधानमंत्री मोदी को जिम्मेवार ठहराया। कांग्रेस के एक प्रवक्ता ने मोदी जी को निशाने पर लेते हुए आरोप लगाया कि राहुल गाँधी के गायब होने की वजह मोदी जी हैं। गायब होने का कारण पूछे जाने पर कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि पार्टी का मानना है कि अभी हाल ही में बनारस की एक सभा में मोदी जी ने राहुल गाँधी की मिमिक्री करी, जिससे राहुल बाबा को काफी सदमा पहुंचा और वो किसी से बिना कुछ बताये कहीं निकल लिए। दस दिन हो गए पर कोई अता-पता नहीं चल रहा।

इतना ही नहीं कांग्रेस ने राहुल गाँधी की सुध नहीं मिलने के लिए भी मोदी को जिम्मेवार ठहराया। पार्टी प्रवक्ता ने कहा कि ये तो सबको पता है कि नोटबंदी के बाद राहुल जी ने एटीएम की लाइन में लगकर ढाई हजार रूपये निकाले थे। इसमें एक दो हजार का नया वाला नोट भी था जिसे बाबा ने संभाल कर अपने पास रखा हुआ है।  यदि मोदी जी ने नये नोटों में जीपीएस एनेबल्ड नैनो चिप लगवाया होता तो आज राहुल गाँधी का पता लगाना काले धन का पता लगाना जितना आसान होता।

Discussion

comments

डिस्क्लेमर: यह एक हास्य-व्यंग्य लेख है और इसके सभी पात्र, घटनाएं अादि काल्पनिक हैं। कृपया इस खबर को सच समझकर व्यर्थ मे अपनी भावनाएं अाहत न करें। अाप भी तीखी मिर्ची ज्वाईन करके अपनी रचनाएं पोस्ट कर सकते हैं
Kumar Keshav
About Kumar Keshav 56 Articles
आजादीपसंद, स्वच्छन्द, आरामतलबी, अमितभाषी

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*