तीखी मिर्ची फ्राइडे रिलीज़: हानिकारक बापू

समाजवादी पार्टी में एकबार फिर से स्यापा शुरू हो गया है। टिकट के बंदरबांट को लेकर। कुछ दिन पहले भी भसड़ मची थी। मगर किसी तरह बीच-बचाव हो गया था। पर इस बार चुनाव के ठीक पहले समाजवादी परिवार में अलगाव का अंदेशा है।

समाजवादी पार्टी में एकबार फिर से स्यापा शुरू हो गया है। टिकट के बंदरबांट को लेकर। कुछ दिन पहले भी भसड़ मची थी। मगर किसी तरह बीच-बचाव हो गया था। पर इस बार चुनाव के ठीक पहले समाजवादी परिवार में अलगाव का अंदेशा है।

Hanikarak Bapu Dangal
हानिकारक बापू का एक्सक्लूसिव पोस्टर!

चुनाव मुँह पर है तो सपा के सर्वे-सर्वा नेताजी ने अपने मनमाफिक उम्मीदवारों की सूची निकाली। पर पुत्तर, प्रदेश के मुखिया अखिलेश को पसंद ना आयी। सो अखिलेश ने भी अपनी लिस्ट निकाल दी है। अपने पसंदीदा लोगों की। और बाप-बेटे के बीच राड़ ठान गयी है। नेताजी इस दफे मन से कतई मुलायम नहीं लग रहे। अखिलेश भी अड़ गए हैं। पोलिटिकल पंडित पारटी को दो फाड़ होने के कगार पर बतावें हैं। अब देखना ये है कि क्या अखिलेश के दूसरी दफे मुख्यमंत्री बनने की जुगत में खुद उनके ही बापू हानिकारक साबित होते हैं या नहीं ? ज़रूर देखो, अपने पास के पिच्चर हाल में !

Discussion

comments

डिस्क्लेमर: यह एक हास्य-व्यंग्य लेख है और इसके सभी पात्र, घटनाएं अादि काल्पनिक हैं। कृपया इस खबर को सच समझकर व्यर्थ मे अपनी भावनाएं अाहत न करें। अाप भी तीखी मिर्ची ज्वाईन करके अपनी रचनाएं पोस्ट कर सकते हैं
Kumar Keshav
About Kumar Keshav 56 Articles
आजादीपसंद, स्वच्छन्द, आरामतलबी, अमितभाषी

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*