अखिलेश को मिला मोदी मंत्र, सपा में बनाएंगे मार्गदर्शक मंडल

क्या सपा के भी बूढे नेताओं का आडवाणी, जोशी और जसवंत सिंह की तरह हाल होगा? क्या वो हाशिये पे चले जाएंगे? अमर सिंह फिक्सिंग अब कहाँ किया करेंगे?

लखनऊ: पिछले कुछ दिनों से सपा (समाजवादी पार्टी) का स्यापा थमने का नाम नहीं ले रहा है। उत्तअ पअदेस के मन से मुलायम नेता जी अपने सुपुत्र और यूपी के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को कठोर वचन सुना रहे हैं। अखिलेश को चाचा शिवपाल नहीं सुहा रहे। शिवपाल ने रामगोपाल को सपा से सरका दिया है। आधे समाजवादी समर्थक शिवपाली और आधे रामगोपाली बन चुके हैं। बाकी जो बचे, वो अमर सिंह हैं।

कुल मिलाकर कहें तो जो समाजवादी सपरिवार सियासी सोडे में सत्ता का सोमरस पी रहे थे, वो अब सबके सर पर नशे सा चढ़कर नाच रहा है।

Narendra Modi with Akhilesh Yadav
नरेन्द्र मोदी अखिलेश यादव को बूढ़ों से निपटने की तरकीब बताते हुए.

बहरहाल पार्टी में पसरे उथल-पुथल को सँभलता न देख अखिलेश यादव ने मोदी जी से मदद माँगी है। पार्टी के अंदर और बाहर के विरोधियों को सफलतापूर्वक निपटाने में सिद्धहस्त मोदी से मुलाकात कर अखिलेश यादव ने आज अक्ल मांगा। सूत्रों के मुताबिक मोदी ने अखिलेश को उनकी पार्टी में भी एक मार्गदर्शक मंडल बनाकर वरिष्ठ नेताओं को सेंटिंग लाइन पकड़ाने का सुझाव दिया है। साथ ही खुद से सहमति न रखने वाले नेताओं की स्नूपिंग कराकर, मॉर्निंग वॉक से छुटकारा दिलवाकर या संदिग्ध सीडी निकलवाकर उनका मुंह बंद करने जैसे टिप्स दिए।

सूत्रों के अनुसार अखिलेश यादव ने भी मोदी के इन सुझावों का स्वागत करते हुए उनके प्रति आभार प्रकट किया है।

Discussion

comments

डिस्क्लेमर: यह एक हास्य-व्यंग्य लेख है और इसके सभी पात्र, घटनाएं अादि काल्पनिक हैं। कृपया इस खबर को सच समझकर व्यर्थ मे अपनी भावनाएं अाहत न करें। अाप भी तीखी मिर्ची ज्वाईन करके अपनी रचनाएं पोस्ट कर सकते हैं
Kumar Keshav
About Kumar Keshav 56 Articles
आजादीपसंद, स्वच्छन्द, आरामतलबी, अमितभाषी

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*