‘मोदी’फाईड मीरा के दो भजन

आपने 15वीं शताब्दी की मीरा के भजन तो बहुत सुने होंगे, आईये आज की 'मोदी'फाईड मीरा के भजन भी सुन लीजिये।

ओरिजिनल मीरा
ओरिजिनल मीरा

भजन संख्या-१

ऐसी लागी लगन किरण हो गयी मगन
वो तो हर ट्वीट में मोदी गुण गाने लगी
क्रेन बेदी वो थी, “ब्रेन कैदी” बनी
मीरा भेदी भी वो अब कहाने लगी
ऐसी लागी लगन किरण हो गयी मगन…

लोग-बाग रोकें उसे, पूछें-टोकें उसे
मीरा भेदी मोदी-महिमा बखाने लगी
बैठी अन्ना के संग, पर रंगी मोदी के रंग
वह मोदी मुदित मानसिकता दर्शाने लगी
ऐसी लागी लगन किरण हो गयी मगन…

मोदी ने जो भी किया, भेदी ने प्रशंसा किया
नमो के यू-टर्न को भी उपलब्धि बताने लगी
आँखों से कुछ भी दिखे, मुख बस मोदी कहे
भेदी बरबस ‘नमो’कारा लगाने लगी
ऐसी लागी लगन किरण हो गयी मगन…

संस्कारी निहाल न दिखा, जोकपाल भी न बना
वो काले धन पर सबको फुसलाने लगी
फुग्गा ने आइटम गर्ल कहा, उसे सम्मानित करा
दंगों पर सफाई मांंगा, अब “घूंघट” गिराने लगी
ऐसी लागी लगन किरण हो गयी मगन…

चतुर्वेदी पर चुप रही, न येल डिग्री पर बोली
मोदी के राई को भी पर्वत बताने लगी
CIC-CVC खाली पड़ा, इन्हें ये ना दिखा
बस केजरीवाल में कमियां बताने लगी
ऐसी लागी लगन किरण हो गयी मगन…

भजन संख्या-२

भायो जी मैनू मोदी महात्मा मन भायो

भायो जी मैनू मोदी महात्मा मन भायो

वर्षों से अर्जित साख को,
साबरमती मा बहायो
भायो जी मैनू मोदी महात्मा मन भायो

भक्ति को सेंसेक्स न गिरे न उतरे
दिन दिन बढ़त सवायो
भायो जी मैनू मोदी महात्मा मन भायो

‘आप’ को अराजकतावादी कहत हूँ
येद्दी-गडकरी कू वश्य-वस्तु* बतलायो        (* Manageable Baggage)
भायो जी मैनू मोदी महात्मा मन भायो

अन्ना जी के श्रवणपुट भरि-भरि
देश को जोकपाल दिलवायो
भायो जी मैनू मोदी महात्मा मन भायो

भेदी के प्रभु नरेंद्र दामोदर
हरषि-हरषि जस गायो
भायो जी मैनू मोदी महात्मा मन भायो

Discussion

comments

डिस्क्लेमर: यह एक हास्य-व्यंग्य लेख है और इसके सभी पात्र, घटनाएं अादि काल्पनिक हैं। कृपया इस खबर को सच समझकर व्यर्थ मे अपनी भावनाएं अाहत न करें। अाप भी तीखी मिर्ची ज्वाईन करके अपनी रचनाएं पोस्ट कर सकते हैं
Kumar Keshav
About Kumar Keshav 56 Articles
आजादीपसंद, स्वच्छन्द, आरामतलबी, अमितभाषी

5 Comments

    • नई सरकार ने मई मे सता संभाली तब विश्वबाजार में कच्चे तेल के भाव 110 डालर प्रति बेरल था,

      आज विश्वबाजार में कच्चे तेल के भाव 25 % गिरावट आई है,
      आज विश्व बाजार में कच्चे तेल के भाव 77डालर प्रति बेरल है,

      जबकि सरकार 1% भाव घटाकर लोगो को चकमा दे रही है,न्यूज़ चॅनेल वाले इस पर डिबेट क्यो नही करते है?

      भारतीय रुपए के हिसाब से आज के तारीख मे पाकिस्तान मे पेट्रोल का भाव 56-00 रुपये प्रति लिटर है ,

      जबकि ह्मारे देश 70 रूपये प्रति लिटरके आसपास है

      तेल कंपनी के मुनाफ़ा के बदले आम आदमी को राहत क्यो नही जाती है?

      विश्व बाजार में कच्चे तेल के भाव 77 डालर प्रति बेरल है
      जो पिछले 5 साल मे सबसे कम भाव है.

      2009-2010 विश्वबाजार में कच्चे तेल के भाव 80 डालर प्रति बेरल था ,

      2009-2010 भारत मे पेट्रोलका भाव 45-50 रुपए,डिजल 30-35 रुपए था.

      आज विश्व बाजार में कच्चे तेल के भाव 77डालर प्रति बेरल है,
      फिर भी भारत मे पेट्रोल का भाव 70 रुपए , डिजल 58 रुपए है,

      आज पेट्रोल का भाव 50 रूपये रूपये और डिज़ल का भाव 35 रुपए प्रति लिटर होना चाहिए,

      पेट्रोल और डिज़ल के बदते भाव को लेकर सता परिवर्तन हुआ, लेकिन आम आदमी को क्या
      मिला ? सरकार 2-3 रुपए भाव घटाकर आम आदमी को चकमा दे रही और तेल कंपनी को
      मुनाफ़ा करा रही है.

      क्या ट्रेन और बस का किराया घटा है ? यात्री किराया बढ़ाकर यात्री को लूटा जा रहा है

      तेल कंपनी कहतीहै हम नुकसान करते है तो कौन सी तेल कंपनी का शेर गिरा है,

      शेरमे तो प्रॉफिट ही होता जा रहा है

      श्रीराम जयराम जयजय राम..

    • पिछले 10 सालो से गुजरात मे रियल एस्टेट मे कालेधन का निवेश हो रहा है

      जिसकी वजह से मकानो का भाव 10 गुना ज़्यादा बढ़ गया,

      समृद्धि रिस-रिस कर समाज के निचले वर्ग में भी खुशहाली लाएगी।

      पर ये बातें हवा-हवाई निकली हैं। विकास के इस ढांचे ने अमीरों को औरअमीर बनाया है,

      जबकि गरीबों को जिंदा रहने लायक भी नहीं छोड़ा है।

      काले धन वाले , काले धन को वे सरकार के हवाले करने

      की बजाय मॉरीशस या सिंगापुर अथवा किसी अन्य रास्ते से वापस लाकर भारत के

      शेयर बाजारों, रियल एस्टेट या अन्य किसी अत्यंत लाभप्रद स्थान पर निवेश कर रहे है

      यदि मॉरीशस के रास्ते काला धन भारत में वापस न आया होता तो

      सैंसैक्स रिकार्ड ऊंचाई कैसे छू सकता था?

      ” श्रीराम जयराम जयजय राम “

  1. नई सरकार ने मई मे सता संभाली तब विश्वबाजार में कच्चे तेल के भाव 110 डालर प्रति बेरल था,

    आज विश्वबाजार में कच्चे तेल के भाव 25 % गिरावट आई है,
    आज विश्व बाजार में कच्चे तेल के भाव 77डालर प्रति बेरल है,

    जबकि सरकार 1% भाव घटाकर लोगो को चकमा दे रही है,न्यूज़ चॅनेल वाले इस पर डिबेट क्यो नही करते है?

    भारतीय रुपए के हिसाब से आज के तारीख मे पाकिस्तान मे पेट्रोल का भाव 56-00 रुपये प्रति लिटर है ,

    जबकि ह्मारे देश 70 रूपये प्रति लिटरके आसपास है

    तेल कंपनी के मुनाफ़ा के बदले आम आदमी को राहत क्यो नही जाती है?

    विश्व बाजार में कच्चे तेल के भाव 77 डालर प्रति बेरल है
    जो पिछले 5 साल मे सबसे कम भाव है..

    2009-2010 विश्वबाजार में कच्चे तेल के भाव 80 डालर प्रति बेरल था ,

    2009-2010 भारत मे पेट्रोलका भाव 45-50 रुपए,डिजल 30-35 रुपए था.

    आज विश्व बाजार में कच्चे तेल के भाव 77डालर प्रति बेरल है,
    फिर भी भारत मे पेट्रोल का भाव 70 रुपए , डिजल 58 रुपए है,

    आज पेट्रोल का भाव 50 रूपये रूपये और डिज़ल का भाव 35 रुपए प्रति लिटर होना चाहिए,

    पेट्रोल और डिज़ल के बदते भाव को लेकर सता परिवर्तन हुआ, लेकिन आम आदमी को क्या
    मिला ? सरकार 2-3 रुपए भाव घटाकर आम आदमी को चकमा दे रही और तेल कंपनी को
    मुनाफ़ा करा रही है.

    क्या ट्रेन और बस का किराया घटा है ? यात्री किराया बढ़ाकर यात्री को लूटा जा रहा है

    तेल कंपनी कहतीहै हम नुकसान करते है तो कौन सी तेल कंपनी का शेर गिरा है,

    शेरमे तो प्रॉफिट ही होता जा रहा है

    श्रीराम जयराम जयजय राम..

  2. पिछले 10 सालो से गुजरात मे रियल एस्टेट मे कालेधन का निवेश हो रहा है

    जिसकी वजह से मकानो का भाव 10 गुना ज़्यादा बढ़ गया,

    समृद्धि रिस-रिस कर समाज के निचले वर्ग में भी खुशहाली लाएगी।

    पर ये बातें हवा-हवाई निकली हैं। विकास के इस ढांचे ने अमीरों को औरअमीर बनाया है,

    जबकि गरीबों को जिंदा रहने लायक भी नहीं छोड़ा है।

    काले धन वाले , काले धन को वे सरकार के हवाले करने

    की बजाय मॉरीशस या सिंगापुर अथवा किसी अन्य रास्ते से वापस लाकर भारत के

    शेयर बाजारों, रियल एस्टेट या अन्य किसी अत्यंत लाभप्रद स्थान पर निवेश कर रहे है

    यदि मॉरीशस के रास्ते काला धन भारत में वापस न आया होता तो

    सैंसैक्स रिकार्ड ऊंचाई कैसे छू सकता था?

    ” श्रीराम जयराम जयजय राम “,

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*