|| चमचा पुराण ||

मोदी सरकार ने चमचों की एक नयी जमात पैदा की है। पहले यह लोकतंत्र का चौथा स्तम्भ हुआ करती थी। आईये पढ़े इन चमचों की वीर गाथा।

|| ॐ सेल्फ़ी पिपासु सम्पादकाय नमः ||

चमचे के साथ सेल्फ़ी (फोटो साभार: मंजुल)
चमचे के साथ सेल्फ़ी (फोटो साभार: मंजुल)

चंदन, कंचन, बिबेक, स्वपन,
नमोवाद के हैं अनमोल रतन।
चमचई इनका है ध्यान-ज्ञान,
दिनरात करते नमो गुणगान।
असत्य को ये सत्य बताते,
तथ्य से ये हमेशा कतराते।
बुद्धिजीवी का ओढ़े लिबास,
टीवी पर करते हद बकवास।
विदूषक का किरदार निभाते,
झूठ बोलकर खूब इठलाते।
अब बैठे हैं लगाके आस,
कब मिलेगा ओहदा खास।
दरबार से कब बुलावा आये,
प्रसाद का मेवा ये भी खायें।
बैठे रहो अब मुँह फाड़के,
निकल लिये वो हाथ झाड़के।

अकबर को तो गया था भूल,
चाटुकारी में ये भी मशगूल।
करता खूब है नमो प्रचार,
ख्वाब में बनता मनसबदार।
पत्रकारिता का ये गलीज़,
दिवास्वप्न का है मरीज़।

धन्यवाद मोदीजी, आप जेल से बच गए मुझे ख़ुशी है (साभार: ट्विटर)
धन्यवाद मोदीजी, आप जेल से बच गए मुझे ख़ुशी है (साभार: ट्विटर)

भागवती, भल्ला, पनगड़िया,
नमोजाप करते बहुत बढ़िया।
अर्थशास्त्र के पापी महान,
खो चुके हैं अपना ईमान।
चुनिंदा आंकड़े करके पेश,
बेचकर खा रहे अपना देश।
सरमायादारों के बिके दलाल,
प्रपंच का नहीं इनको मलाल।
इनका भी है वही चक्कर,
खायेंगे फोकट घी शक्कर।
करते रहो नमो जाप,
कब कृपा करेंगे बाप।

मधु किश्वर रहती है झल्लाई,
खा गया कोई इनकी मलाई।
बनना था इन्हें शिक्षा प्रभारी,
बाजी ले गई येल डिग्रीधारी।
अब ट्वीटर पे करती बुराई,
पकड़ी गई इनकी चतुराई।

किरण बेदी हैं महान हस्ती,
धंधा जिनका मौकापरस्ती।
करती है घिनौनी राजनीति,
भेदी बनकर गुल खिलाती।
कुर्सी पर है नजर गड़ाये,
ट्वीटर पर ही ऊधम मचाये।
बकते रहो नमो के झूठ,
किस्मत अब गई है फूट।

Discussion

comments

डिस्क्लेमर: यह एक हास्य-व्यंग्य लेख है और इसके सभी पात्र, घटनाएं अादि काल्पनिक हैं। कृपया इस खबर को सच समझकर व्यर्थ मे अपनी भावनाएं अाहत न करें। अाप भी तीखी मिर्ची ज्वाईन करके अपनी रचनाएं पोस्ट कर सकते हैं
Ranga Siyaar
About Ranga Siyaar 7 Articles
Voracious reader. Multilingual. Globetrotter. Vagabond. Negligible formal education. Life is a lesson in itself.

6 Comments

      • हम सिर्फ आपकी पोस्ट का लिंक ही साझा कर रहे हैं (पूरी पोस्ट या उसका कंटेन्ट नहीं) , जिस पर क्लिक कर के हमारे पाठक आपकी साइट पर री डायरेक्ट हो जाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*