अनुभव है रफ़्तार है, कांग्रेस फिर इस बार है!

कांग्रेस के 'अनुभव' और 'रफ़्तार' वाला पोलिटिकल जिंगल- तीखी मिर्ची स्टाइल में!

अनुभव है रफ़्तार है, कांग्रेस फिर इस बार है!

अनुभव भी, रफ़्तार भी!
अनुभव भी, रफ़्तार भी!

जहाँ देखो भ्रष्टाचार है,
महिलाओं का हो रहा बलात्कार है।
मंहगाई ने मचा दी चीख पुकार है,
दिल्ली में हमारी जो सरकार है।

आधे से ज्यादा विधायक हमारा दागदार है,
लाल बत्ती में घूमने का उसे अहंकार है।
विरोधियों पर हमारा पहले से ही उधार है,
चार काम हम आते उनके, वो करता हमारे काम चार है।

अनुभव है रफ़्तार है, कांग्रेस फिर इस बार है!

लोकपाल, पारदर्शिता, आदर्शवाद, ये बातें सब बेकार है,
आखिरी दिन बाटेंगे पैसे-दारू, इनपे हमें ऐतबार है।
बटन दबाओ पंजे पर, झाड़ू और कमल की तो हार है,
पांच साल करना तमंचे पे डिस्को, बाबाजी का ठुल्लु हमारा उपहार है।

अनुभव है रफ़्तार है, कांग्रेस फिर इस बार है!

Also posted on My FN.

Discussion

comments

डिस्क्लेमर: यह एक हास्य-व्यंग्य लेख है और इसके सभी पात्र, घटनाएं अादि काल्पनिक हैं। कृपया इस खबर को सच समझकर व्यर्थ मे अपनी भावनाएं अाहत न करें। अाप भी तीखी मिर्ची ज्वाईन करके अपनी रचनाएं पोस्ट कर सकते हैं
Jabra
About Jabra 303 Articles
मेरी गाड़ी बेवकूफों और चाटुकारों से प्रेरणा लेकर चलती है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*


This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.